देश का बहादुर जवान अभिनंदन शुक्रवार को आयेगा वापस….प्रधानमंत्री

नारी ब्यूटी/रिपोर्ट….देश का वीर बहादुर विंग कमांडर अभिनंदन शुक्रवार को भारत वापस लौट आयेगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ये जानकारी दी, इमरान खान ने कहा कि हम शांति चाहते हैं इसलिये कल हम अभिनंदन को रिहा कर रहे हैं। दरअसल अंतरराष्ट्रीय दबाव की वजह से पाकिस्तान को मजबूरन ये फैसला लेना पड़ा। हालांकि इससे पहले इमरान खान और वहां के विदेश मंत्री कुरेशी ने कहा कि जब तक भारत की ओर से शांति नहीं की जाती तब तक पायलट को नहीं छोड़ा जायेगा।

दरअसल अभिनंदन को छोड़ने के लिये भारत की ओर से जेनेवा संधि का हवाला देते हुये पत्र भी लिखा गया था। वहीं अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रम्प की ओर से भी आज कहा गया कि दोनों देशों की ओर से अच्छा समाचार मिलने की उम्मीद है। दरअसल पुलवामा हमले के बाद तकरीबन सभी बड़े देश भारत के साथ नजर आ रहे हैं। यूएनओ में भी पुलवामा हमले की जिम्मेदारी लेने वाले जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया को लेकर प्रस्ताव लाया गया। जिसके बाद पाकिस्तान पर दबाव बहुत बढ़ गया था जिसका नतीजा ये निकला कि आखिरकार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की ओर से आज ये एलान कर दिया गया है
देश का वीर बहादुर विंग कमांडर अभिनंदन शुक्रवार को भारत वापस लौट आयेगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ये जानकारी दी, इमरान खान ने कहा कि हम शांति चाहते हैं इसलिये कल हम अभिनंदन को रिहा कर रहे हैं। दरअसल अंतरराष्ट्रीय दबाव की वजह से पाकिस्तान को मजबूरन ये फैसला लेना पड़ा। हालांकि इससे पहले इमरान खान और वहां के विदेश मंत्री कुरेशी ने कहा कि जब तक भारत की ओर से शांति नहीं की जाती तब तक पायलट को नहीं छोड़ा जायेगा।

दरअसल अभिनंदन को छोड़ने के लिये भारत की ओर से जेनेवा संधि का हवाला देते हुये पत्र भी लिखा गया था। वहीं अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रम्प की ओर से भी आज कहा गया कि दोनों देशों की ओर से अच्छा समाचार मिलने की उम्मीद है। दरअसल पुलवामा हमले के बाद तकरीबन सभी बड़े देश भारत के साथ नजर आ रहे हैं। यूएनओ में भी पुलवामा हमले की जिम्मेदारी लेने वाले जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया को लेकर प्रस्ताव लाया गया। जिसके बाद पाकिस्तान पर दबाव बहुत बढ़ गया था जिसका नतीजा ये निकला कि आखिरकार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की ओर से आज ये एलान कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *